Monday, 21 June 2021

PGI's Yoga Day Campaign 'Yoga Hi! BP Bye!' Concludes: Shalini Chauhan Wins both Yoga Contests

By 121 News

Chandigarh, June 21, 2021:- A social media campaign 'Yoga Hi! BP Bye!' organized by the Department of Community Medicine and School of Public Health(DCM & SPH), Postgraduate Institute of Medical Education and Research (PGIMER), Chandigarh in collaboration with the CCRYN Centre for Mind-Body Medicine by Yoga intervention concluded on International  Day of Yoga on 21st June, 2021. The campaign was launched by Prof. Jagat Ram, The Director, PGIMER, Chandigarh on 14th June, 2021. He applauded the initiative taken by the Dept. of Community Medicine and School of Public Health, PGIMER and urged all staff members -doctors, health workers, nurses, residents, etc. to practice yoga daily for the prevention of non-communicable diseases such as hypertension, diabetes, etc. 

Dr. Sonu Goel, Professor, Department of Community Medicine and School of Public Health, PGIMER, Chandigarh, the Chief Coordinator of this campaign said that we witnessed tremendous enthusiasm from the tricity residents towards this initiative. During this week-long campaign we held several fun-filled health activities like Bhangra Yoga, Zumba, & Yoga presentations, these were held in our department under all COVID SoPs'. These were broadcast live and then put out on social media to amplify the message of importance of Yoga in one's daily life.

The USP of 'Yoga Hi! BP Bye!' was that many online Yoga competitions for all age groups were organised.

Contests like slogan writing, short yoga video, and the 'Yoga Asana Pose' photo contest were conducted during the event. While participating in the Yoga video contest, Shalini Chauhan bagged the first prize, while Kiranjit and Ishan Verma jointly secured the second prize , and Anjali Thakur and Amravati Enclave Yoga Club were declared joint recipients of the third prize. In the Yoga Asana photo contest, Shalini Chauhan again showed her prowess and won the first prize, while Kiranjit and Anjali Thakur earned the second and third prize respectively. In Slogan Writing, Jyoti clinched first, while Anurag and Shalini Chauhan secured the second and third prize respectively.

Dr. Sonu Goel added that the main reason for organizing the event is to sensitize people more about Yoga benefits. Yoga has proven to be an instrumental tool in combating many serious ailments. And It is an important healthcare practice which has been documented to improve blood pressure control and quality of life in a hypertensive individual.

Dr. Akshay Anand, Professor In Charge, CCRYN Centre for Mind-Body Medicine by Yoga intervention, and Professor, Department of Neurology, PGIMER, Chandigarh said that with Yoga asanas-some hypertension patients can manage their blood pressure and can protect themselves from major health complications caused by high blood pressure. Yoga if followed assiduously in consultation with their physicians can provide many health & well-being advantages. Everybody should do it on a daily basis to maintain good health.


Dr. Nidhi Jaswal, Technical Coordinator (Hypertension), SMHSP Project, Department of Community Medicine and School of Public Health, PGIMER, Chandigarh shared that during a week-long campaign numerous activities and contests were held such as Power Yoga, Laughter Yoga, Chair Yoga, Face Yoga, Meditation and Pranayama etc.

The campaign also received messages of support  from many well known personalities. Most prominent among these was Sadhguru of Isha foundation. Big wigs of the medical world like  Dr Bala Subramaniam, a professor of Harvard Medical School and Dr David Frowley  also sent their messages of support.

The exclusive campaign, which was kicked off from 14th June & concluded on International Yoga Day on 21st June 2021 was aimed to strengthen the prevention of management of Non-Communicable Diseases (NCDs'), especially Hypertension through Yoga and other related activities.

होम्योपैथिक कॉलेज और अस्पताल में सातवें अन्तर्राष्ट्रीय योगदिवस अवसर पर योगशाला का आयोजन किया गया

By 121 News
Chandigarh June 21, 2021:-चंडीगढ़, सेक्टर 26 स्थित  होम्योपैथिक कॉलेज और अस्पताल में सातवें अन्तर्राष्ट्रीय योगदिवस के अवसर पर योगशाला का आयोजन किया गया। 
 कॉलेज के डायरेक्टर डॉक्टर संदीप पुरी ने बताया कि योग से ना केवल आत्मबल बढ़ता है, बल्कि शरीर की आंतरिक शक्ति मे भी वृद्धि होती है। डॉ तरुण जो कि एक फिजियोथैरेपिस्ट हैं उन्होंने योग का सेशन लिया साथ ही योग से होने वाले फायदे और फिटनेस के बारे में जागृत किया और बताया कि योग से ना केवल एकाग्रता बढ़ती है बल्कि तनाव में भी भारी कमी होती है। वर्तमान कोविड के नकारात्मक माहौल में योग सकारात्मकता को बढ़ावा देता है। वहीं कॉलेज के प्रिंसिपल सुहित खानरा ने सबको बधाई देते हुए कहा कि केवल योग दिवस पर ही नहीं अपि प्रतिदिन योग करने की आदत डालनी चाहिए।

आयुर्वेदिक डिस्पेंसरी सेक्टर 28 में सांतवा अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया

By 121 News
Chandigarh June 21, 2021:-चंडीगढ़ सेक्टर 28 स्थित आयुर्वेदिक डिस्पेंसरी में सातवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर डॉ राजीव कपिला और उनके स्टाफ मेंबर्स ने योग दिवस को पूरी उत्साह के साथ मनाया। 
इस बाबत बोलते हुए डॉ राजीव कपिला ने कहा कि वह शुरू से ही आयुर्वेद तथा योग के समर्थक रहे हैं। पुरातन भारतीय मनीषियों ने योग के महत्व को समझ लिया था और इसका विस्तार से वर्णन भी किया था। आधुनिक जीवन शैली में योग का महत्व ज्यादा बढ़ जाता है क्योंकि शारीरिक श्रम अब पहले की भांति नहीं होता, मशीनीकरण और तकनीकी ज्ञान ने मानवीय सभ्यता को कठोर श्रम से वंचित कर दिया है। जिसके कारण अब उतनी शारीरिक गतिविधि उतनी नहीं हो पाती जितने कि इंसानी शरीर को स्वस्थ रूप से चलायमान रखने के लिए जरूरी है इसलिए 24 घंटों में से महज आधे घंटे का योग काफी व्याधियों से बचाए रखता है। 
डॉक्टर राजीव कपिला के साथ योग में उनके स्टाफ आकाशदीप कौर, सचिन, डॉक्टर मृदुला, पूनम और उनके अतिरिक्त विनोद बिंदल ने भी योगशाला में भाग लिया।

ना मंडी बंद हुई, ना एमएसपी कम हुआ, कृषि को आधुनिक व मजबूत कर रही है सरकार: डिप्टी सीएम

By 121 News
Chandigarh June 21, 2021:- प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा है कि राज्य सरकार कृषि के क्षेत्र को मजबूत व आधुनिक बनाने की दिशा में निरंतर कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने पिछले डेढ़ साल में किसानों के हित में लगातार ऐतिहासिक कदम उठाए हैं और किसान सरकार द्वारा दी जा रही योजनाओं का लाभ उठाए। वे सोमवार को सिरसा में चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय में पूर्व उप प्रधानमंत्री चौ. देवीलाल की 18 फीट की विशाल प्रतिमा का अनावरण करने उपरांत पत्रकारों से रूबरू थे। इस अवसर पर राज्य मंत्री अनूप धानक भी मौजूद रहे।

 

डिप्टी सीएम ने कहा कि गठबंधन सरकार ने 600 दिन पूरे होने पर इलेक्ट्रॉनिक ट्रैक्टर खरीद पर किसानों को 25 प्रतिशत सब्सिडी देने की घोषणा की है ताकि किसान डीजल छोड़कर ई-ट्रैक्टर के उपयोग करने की ओर बढ़े। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि सरकार का यही लक्ष्य है कि कृषि क्षेत्र को बेहतर और आधुनिक बनाया जाए ताकि उसका किसानों को लाभ मिले। उन्होंने कहा कि सरकार बाजरा की फसल छोड़कर दलहन की खेती करने वाले किसान को चार हजार रुपये अतिरिक्त सहायता दे रही है। इसी तरह सरकार धान की खेती बदलने वाले किसानों को सात हजार रुपये प्रति एकड़ की दर से प्रोत्साहन राशि पहले से दे रही है, जिसके कारण करीब एक लाख एकड़ में किसानों ने धान की खेती कम की और फायदा मिला।   

 

किसान आंदोलन के सवाल पर दुष्यंत चौटाला ने किसानों की मांग दोहराते हुए कहा कि क्या पिछले एक साल में एक भी मंडी बंद हुई है? उन्होंने कहा कि किसानों की दूसरी मांग एमएसपी उन्हें मिले, यह थी। डिप्टी सीएम ने कहा कि हरियाणा सरकार ने करीब 16 हजार करोड़ रुपये और करीब 27 हजार करोड़ रुपये पंजाब सरकार ने किसानों के खाते में डालने का काम किया है, क्या इससे किसान बर्बाद हुए ?

 

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि किसानों का तीसरा विषय जमीन कब्जाने को लेकर था। उन्होंने कहा कि किसान लंबे अरसे कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग करता आ रहा है, इतने समय में क्या किसी किसान की जमीन पर कब्जा हुआ ? डिप्टी सीएम ने कहा कि केवल किसानों को भ्रमित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अब यह आंदोलन किसानों के हाथ में नहीं रहा बल्कि राजनीति से प्रेरित हो गया है। दुष्यंत चौटाला ने यह भी कहा कि सिरसा में किसानों के मसीहा चौधरी देवीलाल जी की मूर्ति का अनावरण और हिसार में मेरी नानी जी के निधन पर शोक जताने के लिए पहुंचने पर विरोध करने वाले किसान नहीं है। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि चौ. देवीलाल जी किसानों के लिए एक ऐसी संस्थान रहे हैं, जिन्होंने किसानों का भला किया।

 

उपमुख्यमंत्री ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर दी शुभकामनाएं:-

डिप्टी सीएम ने प्रदेशवासियों को सातवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि आज योग को पूरे विश्व में त्यौहार के रूप में मनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी में योग से मरीजों व ठीक हो चुके लोगों को निरंतर ताकत मिली है। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि योग भारत की प्राचीन पद्धति है और योग को पूरे विश्व ने अपनाया है और इसका महत्व भी समझा है। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में लोगों ने योग को अपना कर न केवल बचाव किया है बल्कि इससे अपने आप को स्वस्थ भी किया है।

 

चौ. देवीलाल जी की 18 फीट की विशाल प्रतिमा का अनावरण किया

इससे पूर्व उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय में पूर्व उप प्रधानमंत्री चौ. देवीलाल की 18 फीट की विशाल प्रतिमा का अनावरण और कई परियोजनाओं का उद्घाटन-शिलान्यास किया। उन्होंने आज के दिन को ऐतिहासिक बताते हुए कहा कि आज के ही दिन 44 साल पहले जननायक चौ. देवीलाल जी प्रदेश के मुख्यमंत्री बने थे। उन्होंने कहा कि चौधरी देवीलाल जी अपने आप में एक संस्थान थे, जिनका पूरा जीवन लोगों की भलाई के लिए समर्पित रहा। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि चौधरी देवीलाल की यह प्रतिमा उनके कई दशकों तक के बेहतरीन राजनीतिक जीवन के सफर को दर्शाने का काम करेगी और आने वाली पीढ़ियों के लिए प्रेरणा स्त्रोत रहेगी।


- ना मंडी बंद हुई, ना एमएसपी कम हुआ, कृषि को आधुनिक व मजबूत कर रही है सरकार - डिप्टी सीएम

- गेहूं खरीद के 43 हजार करोड़ रुपये हरियाणा-पंजाब के किसानों के सीधे खाते में गये - दुष्यंत चौटाला


- इलेक्ट्रॉनिक ट्रैक्टर खरीद पर किसानों को 25 प्रतिशत सब्सिडी देगी हरियाणा सरकार उपमुख्यमंत्री

 

सिरसा/चंडीगढ़(हरजिन्दर चौहान):- प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा है कि राज्य सरकार कृषि के क्षेत्र को मजबूत व आधुनिक बनाने की दिशा में निरंतर कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने पिछले डेढ़ साल में किसानों के हित में लगातार ऐतिहासिक कदम उठाए हैं और किसान सरकार द्वारा दी जा रही योजनाओं का लाभ उठाए। वे सोमवार को सिरसा में चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय में पूर्व उप प्रधानमंत्री चौ. देवीलाल की 18 फीट की विशाल प्रतिमा का अनावरण करने उपरांत पत्रकारों से रूबरू थे। इस अवसर पर राज्य मंत्री अनूप धानक भी मौजूद रहे।

 

डिप्टी सीएम ने कहा कि गठबंधन सरकार ने 600 दिन पूरे होने पर इलेक्ट्रॉनिक ट्रैक्टर खरीद पर किसानों को 25 प्रतिशत सब्सिडी देने की घोषणा की है ताकि किसान डीजल छोड़कर ई-ट्रैक्टर के उपयोग करने की ओर बढ़े। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि सरकार का यही लक्ष्य है कि कृषि क्षेत्र को बेहतर और आधुनिक बनाया जाए ताकि उसका किसानों को लाभ मिले। उन्होंने कहा कि सरकार बाजरा की फसल छोड़कर दलहन की खेती करने वाले किसान को चार हजार रुपये अतिरिक्त सहायता दे रही है। इसी तरह सरकार धान की खेती बदलने वाले किसानों को सात हजार रुपये प्रति एकड़ की दर से प्रोत्साहन राशि पहले से दे रही है, जिसके कारण करीब एक लाख एकड़ में किसानों ने धान की खेती कम की और फायदा मिला।   

 

किसान आंदोलन के सवाल पर दुष्यंत चौटाला ने किसानों की मांग दोहराते हुए कहा कि क्या पिछले एक साल में एक भी मंडी बंद हुई है? उन्होंने कहा कि किसानों की दूसरी मांग एमएसपी उन्हें मिले, यह थी। डिप्टी सीएम ने कहा कि हरियाणा सरकार ने करीब 16 हजार करोड़ रुपये और करीब 27 हजार करोड़ रुपये पंजाब सरकार ने किसानों के खाते में डालने का काम किया है, क्या इससे किसान बर्बाद हुए ?

 

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि किसानों का तीसरा विषय जमीन कब्जाने को लेकर था। उन्होंने कहा कि किसान लंबे अरसे कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग करता आ रहा है, इतने समय में क्या किसी किसान की जमीन पर कब्जा हुआ ? डिप्टी सीएम ने कहा कि केवल किसानों को भ्रमित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अब यह आंदोलन किसानों के हाथ में नहीं रहा बल्कि राजनीति से प्रेरित हो गया है। दुष्यंत चौटाला ने यह भी कहा कि सिरसा में किसानों के मसीहा चौधरी देवीलाल जी की मूर्ति का अनावरण और हिसार में मेरी नानी जी के निधन पर शोक जताने के लिए पहुंचने पर विरोध करने वाले किसान नहीं है। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि चौ. देवीलाल जी किसानों के लिए एक ऐसी संस्थान रहे हैं, जिन्होंने किसानों का भला किया।

 

उपमुख्यमंत्री ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर दी शुभकामनाएं:-

डिप्टी सीएम ने प्रदेशवासियों को सातवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि आज योग को पूरे विश्व में त्यौहार के रूप में मनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी में योग से मरीजों व ठीक हो चुके लोगों को निरंतर ताकत मिली है। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि योग भारत की प्राचीन पद्धति है और योग को पूरे विश्व ने अपनाया है और इसका महत्व भी समझा है। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में लोगों ने योग को अपना कर न केवल बचाव किया है बल्कि इससे अपने आप को स्वस्थ भी किया है।

 

चौ. देवीलाल जी की 18 फीट की विशाल प्रतिमा का अनावरण किया

इससे पूर्व उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय में पूर्व उप प्रधानमंत्री चौ. देवीलाल की 18 फीट की विशाल प्रतिमा का अनावरण और कई परियोजनाओं का उद्घाटन-शिलान्यास किया। उन्होंने आज के दिन को ऐतिहासिक बताते हुए कहा कि आज के ही दिन 44 साल पहले जननायक चौ. देवीलाल जी प्रदेश के मुख्यमंत्री बने थे। उन्होंने कहा कि चौधरी देवीलाल जी अपने आप में एक संस्थान थे, जिनका पूरा जीवन लोगों की भलाई के लिए समर्पित रहा। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि चौधरी देवीलाल की यह प्रतिमा उनके कई दशकों तक के बेहतरीन राजनीतिक जीवन के सफर को दर्शाने का काम करेगी और आने वाली पीढ़ियों के लिए प्रेरणा स्त्रोत रहेगी।

Health Facilities and Policies Turned into Joke: Selja

By 121 News
Chandigarh, June 21, 2021:-State Congress President Kumari Selja has said that health facilities and government policies in Haryana have turned into a  joke.  In a statement released on Monday, Kumari Selja,  making a big attack on the government, said that the people of the state have faced two rounds of Corona tragedy, the third wave can wreak havoc anytime but permanent medical facilities are not being provided by government.

        Making a special mention of Gurugram, she said that crores of rupees are being spent randomly on temporary medical facilities.  How much was spent in total, for whom was it spent, how many got health benefits?  No one is ready to tell.  It is not clear who is accountable?  Everything is in the dark.

   Kumari Selja said that corporate Social Responsibility (CSR) fund is being misused heavily. It should be investigated immediately.  She alleged that the officers are arbitrarily using this fund on the behest of the government. Such autocracy of officials is possible only under Khattar's rule. In Gurugram, nine oxygen plants and 550-bed temporary covid care centers were arranged from CSR fund, but how much money was spent, even the CMO does not know.

  The State Congress president said that in the second wave in the state, 40 percent of corona cases came from Gurugram district, a large number of deaths occurred, but the government is showing shameful apathy and hypocrisy in setting up a permanent medical infrastructure in the cyber city.  The Chief Medical Officer himself has admitted that at present there is no new proposal for permanent health facility or hospital for Gurugram.

     What can be more shameful than this that in the last seven years, in Gurugram, which contributes the most to the state's exchequer, not even a single new dispensary was built in the last seven years. The condition of Gurugram Headquarter Hospital is worse than ruins.  Due to the poor condition of the hospitals and dispensaries located in the sub-divisions of the district, the health of the general public is in severe danger.

                Selja said, it is unfortunate that when the corona was at its peak, no covid care center was set up for any patient and now, when  wrath of corona is almost reduced, the entire state is flooded with covid centers.

    Selja said that in the name of health facilities, crores of rupees are being poured but nobody can realise the utility. A 'khela' (big game) is on.

Desh Bhagat University Organizes Tree Plantation in the Memory of S. Lal Singh

By 121 News
Chandigarh June 21, 2021:-To Mark, the thirty-second anniversary of Freedom fighter S. Lal Singh, path Sri Sukhmani sahib was organized in the Desh Bhagat University on Monday. All students and staff from different faculties planted trees in the loving memory of Sardar Lal Singh. Chancellor of the university Dr. Zora Singh said that we should all walk on the path of patriotism, and tries to ensure that every action we take, big or small, has better results for our society and country.

On this occasion, the spokesperson of the university said that Desh Bhagat University was Established in the Memory of S. Lal Singh Ji, revered father of Dr. Zora Singh, Chancellor. He was an associate of Neeta Ji Subhash Chander Boss and was given the status of 'Freedom Fighter' by the Ministry of Home Affairs, Government of India, in May 1970. He was awarded "Tamra Patra" on the occasion of the Silver Jubilee celebrations of India's Independence on 15th August 1972 by the then Prime Minister of India, Late Indira Gandhi, in recognition of his contribution to freedom struggle of India. 

Talking about his father Dr. Zora Singh said that he always insisted on good education. He used to say that only good education can create a good society, the society gets true freedom only when there is freedom of thought. Good education frees our minds. For this purpose, we built this university and named it Desh Bhagat University. We are committed to making their dream come true.

This was followed by tree plantation by Dr. Zora Singh, Pro-Chancellor Dr. Tajinder Kaur, S. Hardev Singh, Vice-Chancellor Dr. Shalni Gupta, Advisor to Chancellor Dr. Virinder Singh Registrar Dr. Kulbhushan to keep his memory alive. The event was attended by the Directors of all Schools faculty Members and Students. 

निर्जला एकादशी के उपलक्ष्य में भाविप और द लास्ट बेंचर ने मीठी-नमकीन लस्सी के पैकेट की छबील तथा आम और हलवा चने का लंगर लगाया

By 121 News
Chandigarh June 21, 2021:-निर्जला एकादशी पर भारत विकास परिषद ईस्ट 01 और 02 की तरफ से समाजसेवी संस्था द लास्ट बेंचर के सहयोग से सोमवार को सेक्टर 21 के कम्युनिटी सेंटर के नजदीक ठंडी मीठी-नमकीन लस्सी के पैकेट की छबील तथा मीठे आम और चने का लंगर भी लगाया गया। उमस भरी गर्मी में लोगों ने छबील का आनंद उठाया, वहीं इस मौके राहगीरों ने ताजे मीठे आम और चने का लंगर भी ग्रहण किया। इस मौके पर नवनीत गौड़, सुमिता कोहली, अनिल कौशल, हरबिलाश गर्ग, अशोक घई, मनमोहन कालिया, मनमोहन जॉली, ललित मोहन, अरुण शर्मा, पर्वेश गुप्ता,संजय सिंगला,सुमन गोएल,शशि बाला,आरती बुद्धिराजा, डेजी महाजन और समाजसेवी रविन्द्र सिंह बिल्ला आदि मौजूद थे।
नवनीत गौड़  ने बताया कि संस्था की ओर से हर वर्ष निर्जला एकादशी पर छबील तथा चने का लंगर लगाया जाता है। उसी मुहिम के तहत इस वर्ष भी इस लंगर का आयोजन किया गया था। जिसमें लोगों ने बढ़चढ़ कर अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई।
वहीं द लास्ट बेंचर की प्रेसिडेंट सुमिता कोहली ने बताया कि गर्मी के मौसम को देखते हुए भी इस छबील का आयोजन किया गया।शास्त्रों के अनुसार एकादशी का पुण्य समस्त तीर्थों और दानों से अधिक है। केवल एक दिन मनुष्य निर्जल रहने से पापों से मुक्त हो जाता है।

Nissan Exports All-New Magnite to Nepal, Indonesia & SA

By 121 News
Chandigarh June 21, 2021:- Nissan India today announced the exports of the all-new Nissan Magnite in Indonesia, South Africa and Nepal. Since the launch of the all-new Nissan Magnite in December 2020, Nissan India has produced 15,010 sub-compact SUVs (till end of May 2021) including 13,790 for India and 1,220 for exports.

Built on the philosophy of "Make in India, Make for the World", the new vehicle has replicated its India success in the Nepalese market by achieving 2,292 bookings within first 30 days of its launch in February 2021 in a market that has monthly passenger vehicle sales of 1,580 units.

Sinan Ozkok, President, Nissan Motor India Pvt. Ltd. said that following a successful global launch, the all-new Nissan Magnite has been very well received by the Indian consumers. Having already made a mark in the Indian market with its impeccable design and the latest technology, the all-new Nissan Magnite is driving excitement amongst customer on a global scale. Built on the philosophy of "Make in India, Make for the World, the all-new Nissan Magnite will explore more export markets after the overwhelming customer response it has received in the Nepal market. We are confident that the game changer SUV will strengthen the exports as part of Nissan NEXT transformation plan for our sustainable growth.

निर्जला एकादशी के उपलक्ष पर हिमाचल महा सभा चंडीगढ़ ने लस्सी, केले एव बिस्कुट वितरण किए

By 121 News
Chandigarh June 21, 2021:-निर्जला एकादशी के उपलक्ष पर हिमाचल महा सभा चंडीगढ़ की ओर लेबर चौक सेक्टर 40-41, गौ शाला सेक्टर 45, कुष्ठ आश्रम सेक्टर 47  और पी जी आई में लस्सी, केले एव बिस्कुट वितरण किए। इस मौके पर मुख्य रूप से हिमाचल महा सभा चंडीगढ़ के जनरल सेक्रेटरी भागीरथ  शर्मा,राकेश दत्ता, संजीव शर्मा, के. सी. वर्मा , विनोद राणा, बाली जी,  ब अन्य पदाधिकारियों   उपस्थित रहे! विनोद राणा  ऑफिस सेक्रेटरी ने कहा कि लेबर चौक में  बहुत से लेबर के मुंह के ऊपर मास्क नहीं थे तुरंत संज्ञान लेते हुए हमने  मास्क का इंतजाम कर उन सबको वितरण किए तथा करोना की बीमारी को लेकर जागरूक किया, इस दौरान सुरक्षित दूरी व प्रशासन द्वारा किए गए निर्धारित नियमों का पूरा ध्यान रखा गया।
सभा के अध्यक्ष सतीश शर्मा और संगठन सचिव पृथ्वी सिंह ने कहा कि सभा इस तरह के काम समय समय पर करते रहते हैं और आगे भी समाज सेवा के लिए जो भी कार्य सामाजिक कार्य होगे जरूर किए जाएंगे।

Pawan Bansal Visit House of Legendary Indian athlete late Milkha Singh

By 121 News
Chandigarh June 21, 2021:-Pawan Kumar Bansal former Union Minister, today visited the house of late Milkha Singh the legendary Indian athlete to hand over the letter of Congress president Sonia Gandhi and pay his obeisance on the sad demise of Milkha Singh and his wife Nirmal Milkha singh. Pawan Bansal handed over the message of Congress President Sonia Gandhi to Milkha Singh's son Jeev Milkha Singh and his family. Sonia Gandhi in her message has expressed her deep grief over the sad demise of Milkha singh and Nirmal Milkha singh. She recalled the achievements of the legendary athlete and wrote Milkha singh's contributions will never be forgotten and the nation will always remain indebited towards his achievements. Pawan Bansal was accompanied by Subhash Chawla President CTCC, H S Lucky Chief Spokesperson CTCC, Devinder Babla Leader of opposition in MC House. Congress leaders said that they will demand from the administration to name athletic club of sector 7 after Late Milkha singh.

MCM Celebrates International Day of Yoga

By 121 News
Chandigarh June 21, 2021:-Marking the celebration of 7th International Day of Yoga, Mehr Chand Mahajan DAV College for Women celebrated the day virtually with great fervour. In sync with the campaign titled 'Be With Yoga, Be At Home' launched by the Ministry of Ayush, Government of India, the college celebrated the day with online activities by NSS units, NCC, Psycho Social Support Cell, Charitra Nirman Committee and Physical Education Department. Leading by example, Principal Dr. Nisha Bhargava began the day by practicing yoga with her family. Dr. Bhargava implored everyone to embrace Yoga for betterment of physical as well as mental health. Highlighting the importance of yoga for holistic well-being, she said that it is an invaluable gift of ancient Indian tradition that has played a significant role in psycho-social care and fighting the effects of social isolation during the pandemic ridden times. The NSS units of the college, under the aegis of Psycho Social Support Cell, organised an online Yoga session by Yoga Instructor Mr. Rohit. Over 120 faculty members and volunteers registered for the session. During the session, Rohit discussed the importance of yoga and demonstrated asanas as mentioned in common yoga day protocol including Ustrasana, Shashankasana, Bhujangasana, Dhanurasana, Makarasana and Trikonasana. He also explained the correct way of doing breathing exercises. Some of the NSS volunteers also participated in online quiz competitions organized at National as well as State level by different agencies. The Physical Education Department and NCC also organised online Yoga demonstration by K Monarita, an award winning Yoga Instructor. Over 100 staff and students joined the session wherein Monarita demonstrated live various asanas. Monarita highlighted the importance of practicing yoga particularly in the post COVID recovery period. The NCC cadets of the college also performed yogasanas at 1 Chd Girls Bn, NCC Group, Chandigarh. The Charitra Nirman Committee organised an Inter College Video Making Competition on this occasion, wherein the participants sent in their videos while performing yogasanas. The winners were awarded cash prizes.