Saturday, 26 September 2020

केंद्र सरकार को देश की आम जनता से सरोकार नहीं है केवल अपने लोगों को फायदा पहुंचाने का है: परमजीत सिंह

By 121 News

Chandigarh Sept. 26, 2020:- कृषि अध्यादेश को लेकर चंडीगढ़ से वरिष्ठ कांग्रेस लीडर परमजीत सिंह ने केन्द्र सरकार पर जोरदार हमला बोलते हुए कहा कि किसानों की तकलीफ किसी से भी छिपी नही है। रोज़ किसी किसी जगह से किसान आत्महत्या की ख़बर आती है। ऊपर से जुमलेबाज सरकार ने कृषि किसान विरोधी बिल को पेश करके उनकी तकलीफ मे बढ़ोतरी कर दी है। खेती को अपने चहेते मुहंलगे कारपोरेट घरानों के हिसाब से डिजाइन कर दिया। जनविरोधी नीतियों की पैरवी कर रही, इस सरकार को देश की आम जनता से सरोकार नहीं है केवल अपने लोगों को फायदा पहुंचाने का है।

परमजीत सिंह ने आगे कहा कि आज किसान खेत खलिहान छोड़ कर सडकों पर धरने करने को मजबुर है। उसका वर्तमान धुंधला है, भविष्य अंधकारमय बना दिया गया है। उसके भविष्य के आशामयी दीप को केंद्र सरकार ने बुझा दिया गया है। वैसे भी इस कारपोरेट घरानों की सेवा में लीन सरकार से क्या आमजन, क्या किसान, क्या मजदूर, क्या सरकारी कर्मचारी, क्या रेलवे, क्या व्यापारी, क्या छोटा दुकानदार, क्या पढ़ा-लिखा बेरोजगार, क्या दिहाड़ीदार मतलब सब लोग परेशान है एक केंद्रीय मंत्री ने विरोध स्वरूप इस्तीफा भी दे दिया। यानि अपने भी विरोध पर उतर आए। लेकिन फिर भी सरकारी तंत्र के कानों पर जूं तक नही रेंग रही किसान पहले ही असहाय महसूस करते थे, लेकिन अब तो वह अपने आप को मरा हुआ ही महसूस कर रहे हैं। चूंकि कीमतें बाजार तय करेगा तो फसल नही खरीदने का डर दिखाकर कीमतें अपनी मर्जी से तय होगी, किसान अपनी ही जमीन पर गुलाम बन बैठेगा तथा कोरपोरेट जगत के लोग अघोषित मालिक बन बैठेंगे। किसान की परेशानी में कांग्रेस उनके साथ खड़ी है और जब तक ये किसान विरोधी बिल वापिस नहीं हो जाता, तब तक सड़क से संसद तक किसानों के सर्मथन मे उनके साथ ही आंदोलन करते रहेंगे। "जय जवान, जय किसान"

No comments:

Post a comment