Wednesday, 2 September 2020

पार्षद एवं पूर्व डिप्टी मेयर शीला देवी ने पशु शव दाह प्लांट एजेंडा के पास होने पर इस दिन को चंडीगढ़ शहर के लिए दुर्भाग्यपूर्ण दिन बताया 

 बीजेपी शासित कारपोरेशन व पार्षदों ने सोची समझी साजिश के तहत गंदी राजनीति से प्रेरित होकर यह पशु शव दाह का एजेंडा सेक्टर 25 में लगाने को लेकर अवैध तरीके से पास किया।

 *पार्षद शीला देवी ने नगर निगम व प्रशासन से मांग की कि प्लांट के नजदीक 2 किलोमीटर एरिया में रहने वाले लोगों को उनकी प्रॉपर्टी की हिसाब से दोगुनी प्रॉपर्टी या जगह देकर चंडीगढ़ में ही बसाया जाए।* 

पार्षद एवं पूर्व डिप्टी मेयर शीला देवी ने कहा कि 31 अगस्त 2020 को सदन की बैठक हुई जिसमें  बीजेपी शासित कारपोरेशन व उसके पार्षदों ने लोकतंत्र की हत्या करते हुए असंवैधानिक तौर पर नियमों की अनदेखी करते हुए अवैध रूप से पशु शवदाह प्लांट एजेंडा को पास किया। पार्षद शीला देवी ने प्लांट ना लगाने को लेकर जबरदस्त विरोध किया लेकिन बीजेपी पार्षदों एवं मेयर ने साफ मना कर दिया और प्लांट सेक्टर 25 में पास कर दिया शीला देवी ने  कहा कि यह प्लांट सेक्टर 25 में लगाने का फैसला चंडीगढ़ की जनता को नर्क में धकेलने के समान होगा और लोगों की ज़िन्दगी से खिलवाड़ करने जैसा होगा। पार्षद शीला फूल सिंह ने पशु शव दाह एजेंडा का जबरदस्त विरोध किया और कहा कि यह प्लांट सेक्टर 25 में नहीं लगना चाहिए इससे वहाँ रहने वाले लाखों लोग प्रभावित होंगे।
    पार्षद शीला देवी ने इस प्लांट को लगाने के फैसले का विरोध किया और कहा कि वह किसी भी कीमत पर यह प्लान सेक्टर 25 में नहीं लगने देंगीं और जल्द ही वह इसके लिये एडवाईज़र एव गवर्नर को पत्र लिखकर आग्रह करेंगी कि यह प्लांट चंडीगढ़ में कही भी ना लगे क्योंकि इसमें पूर्ण रूप से नियमों की अनदेखी की गई है और किस तरह  पशु शवदाह का एजेंडा अवैध रूप से पास किया गया जो कि शहर के हित में नहीं है।
 पार्षद शीला देवी ने इस दिन को चंडीगढ़ शहर के लोगों के सामने बीजेपी पार्टी व उनके पार्षदों का असली चेहरा खुलकर सामने आ गया है कि कैसे वे लोकतंत्र की हत्या करते हुए चंडीगढ़ की जनता के साथ विश्वासघात कर रहे हैं  चंडीगढ़ शहर का दुर्भाग्य है कि आज शहर का प्रतिनिधित्व बीजेपी पार्टी कर रही है और बीजेपी पार्टी और उसके पार्षद चंडीगढ़ का बेड़ा गर्क कर रहे हैं क्योंकि बीजेपी द्वारा प्लांट लगाने का फैसला डडुमाजरा, सेक्टर 24, 25 यूनिवर्सिटी, सेक्टर 14 वैस्ट, धनास, सेक्टर 23, 15,  38, 38 West  में रहने वाले लाखों लोगों के साथ विश्वासघात करने जैसा होगा।
बीजेपी व उसके पार्षदों ने जनता को गुमराह किया क्योंकि सदन में एजेंडा सिर्फ इसलिए आया था कि यह प्लांट इंडस्ट्रियल एरिया फेस वन में लगेगा या नहीं लगेगा और इसमें सेक्टर 25 का कोई भी जिक्र नहीं था लेकिन फिर भी बीजेपी शासित कारपोरेशन व उसके पार्षदों ने एक अन्य विकल्प चुना जो कि सिर्फ राजनीति से प्रेरित था और पहले से ही बीजेपी पार्षदों ने उसके लिए प्लानिंग की हुई थी कि यह एजेंडा कांग्रेस पार्षदों के एरिया में ही लगना चाहिए और उसके लिए उन्होंने सेक्टर 25 को चुना और पशु शव दाह प्लांट लगाने का एजेंडा सेक्टर 25 क्रीमेशन ग्राउंड के नजदीक पास किया गया जोकि लोगों की भावनाओं के साथ खिलवाड़ किया गया बीजेपी शासित कारपोरेशन व उसके पार्षदों ने पशु शव दाह प्लांट करने से पहले एक बार भी नहीं सोचा कि इन प्लांट्स के लगने से उनमें से कई भयानक तरह के रसायन व अन्य जहरीली गैस निकलती हैं जो की सेहत के लिए बहुत ही हानिकारक है यह प्लांट  पास करके बीजेपी के पार्षद लाखों लोगों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ कर रही है
 शीला देवी जी ने आगे कहा कि बीजेपी पार्षद वह मेयर को चंडीगढ़ के लोगों की और चंडीगढ़ के प्रति  जरा भी संवेदना नहीं है अंत में पार्षद शीला देवी ने पुरज़ोर मांग की कि नगर निगम व प्रशासन प्लांट के 2 किलोमीटर के आसपास रहने वाले लोगों को उनकी प्रॉपर्टी के हिसाब से दोगुना प्रॉपर्टी या जगह देकर चंडीगढ़ में ही बसाया जाए ।

No comments:

Post a comment