Tuesday, 29 September 2020

कृषि विधेयकों के पक्ष में भाजपा ने निकाली ट्रेक्टर रैली भाजपा अगले 15 दिनों तक चलाएगी जन जागरण अभियान रैली के दौरान उड़ी धज्जियां, साईकल ट्रैक पर भाजपा ने चलाये ट्रैक्टर विधेयक पूरी तरह से किसानों के पक्ष मे-विपक्ष फैला रहा भ्रम: राजकुमार चाहर

By 121 News

Chandigarh Sept. 29, 2020:- विपक्षी पार्टियों द्वारा लगातार हाल ही मे लोकसभा और राज्यसभा मे पास हुए कृषि विधेयकों के खिलाफ प्रदर्शन किए जा रहे हैंइसी के जवाब अब भाजपा ने भी किसानों को इन कृषि विधेयको के बारे मे जागरूक करने के लिए जन जागरण अभियान चलाना शरू किया है। इसी के तहत भाजपा ने किसानों के हक़ मे और उन्हें कृषि विधेयकों के बारे में जागरूक करने के उद्देशय से चंडीगढ़ मे ट्रेक्टर रैली का आयोजन किया गया इस अवसर पर खुद भाजपा के किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजकुमार चाहर, भाजपा चंडीगढ़ प्रदेश अध्यक्ष अरुण सूद, भाजपा चंडीगढ़ इकाई के महामंत्री रामबीर भट्टी और भाजपा चंडीगढ़ किसान मोर्चा  के अध्यक्ष दीदार सिंह सहित अन्य किसान नेता भी मौजूद थे। यह ट्रेक्टर रैली सेक्टर 34 के एग्जिबिशन ग्राउंड से निकाली गई। हालाँकि रैली के दौरान जमकर सरकारी नियमो की धज्जियां भी उड़ाई गई और भाजपा ने साईकल ट्रैक पर भी ट्रैक्टर चला दिए।

बाद में पत्रकार वार्ता में भाजपा के किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष  राजकुमार चाहर ने कहा कि तीनों कृषि विधेयकों से किसानों को फायदा ही पहुचेगा। विपक्षी दल इस बारे में किसानों में लगातार भ्रम और अफवाह फैला रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कृषि विधेयकों को लेकर साफ किया है कि किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य हर हाल में मिलेगा और यह बिल पूरी तरह से किसानों के हक़ मे है। इस ट्रेक्टर रैली से वह किसानों को संदेश पहुँचाएगें और विपक्ष के फैलाये झूठ को बेनकाब करेंगे।उन्होंने कहा कि देश का किसान समझदार है वो विपक्षी राजनैतिक दलों के बहकावे में नहीं आएगा और जल्द ही इस कृषि विधेयकों कि अहमियत को समझ लेगा। राजकुमार चाहर ने आगे कहा कि यह बिल पूरी तरह से किसान हितैषी और किसानों को फायदा पहुँचाने वाले है।

भाजपा के किसान मोर्चा के नेशनल प्रेजिडेंट राजकुमार चाहर ने पत्रवार्ता के दौरान अपनी सहयोगी पार्टी शिरोमणि अकाली दल पर बड़ी टिप्पणी की है। जिसमे उन्होंने कहा कि अकाली दल उनके साथ पिछले 23 वर्षों से साथ थी और उन्होंने उसे बड़े भाई की तरह सम्मान दिया है। इस बिल के बारे मे अकाली दल को शरू से ही पुरी जानकारी थी, उसके बावजूद उन्होंने यह कदम उठाया। शायद उनकी राजनीतिक मजबूरियां रही होंगी और उन्ही मजबूरियों के कारण ही उन्होंने यह कदम उठाया।

वही भाजपा के अध्य्क्ष अरुण सूद ने कहा कि यह बिल किसानों के हक़ मे है, और चंडीगढ़ भाजपा द्वारा किसानो को जागरूक करवाने के लिए इन बिलों के बारे मे अगले 15 दिनों तक जन जागरण अभियान चलाया जायेगा उन्होंने आगे कहा कि इस रैली के लिए उन्होंने डी सी ऑफिस से परमिशन के लिए अप्लाई किया था, लेकिन इसके लिए उन्हें इजाजत नहीं मिल पायी   वहीँ इस ट्रैक्टर रैली की इजाजत भाजपा को किसने दी, अगर परमिशन नहीं थी तो भाजपा इस रैली को किसकी शह पर निकाल पाई   इसको लेकर विपक्ष सवाल खड़ा कर रहा है क्यों कि अन्य पार्टियां अगर रैली करती हैं तो उन्हें मना कर दिया जाता है।

No comments:

Post a comment