Thursday, 7 February 2019

जोशी फाऊंडेशन की ओर से पंजाब के प्रथम मीडिया अवार्ड का ऐलान: कलम एवं विचारों के योद्धाओं के सम्मान में पंजाब का पहला अनूठा प्रयास

By 121 News

Chandigarh 07th Feb, 2019:- पत्रकारिता के जोखिम भरे क्षेत्र में अपनी भूमिका निभा रहे पत्रकारों को प्रोत्साहित करने के लिए स्थानीय जोशी फाऊंडेशन द्वारा एक अनूठा प्रयास करते हुए 'जोशी फाऊंडेशन मीडिया अवार्ड पंजाब' की घोषणा की गई। जोशी फाऊंडेशन के चेयरमैन  विनीत जोशी  ने बताया कि इस प्रयास के तहत उन सभी पत्रकारों को राज्य स्तरीय मीडिया अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा, जिन्होंने वर्ष 2018 में अपने-अपने क्षेत्र में विशेष उपलब्धियां हासिल की हैं। 

जोशी फाऊंडेशन के प्रथम मीडिया अवार्ड की घोषणा ज्यूरी कमेटी के प्रमुख सदस्यों की मौजूदगी में हुई, जिसमें अंग्रेजी दैनिक इंडियन एक्सप्रेस  के पूर्व रेसिडेंट एडिटर विपिन पब्बी, प्रो. बी.के. कुठियाला पूर्व वाइस चांसलर माखनलाल चतुर्वेदी नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ जर्नलिज़म एंड कम्यूनिकेशन, भोपाल के पूर्व वाइस चांसलर, दैनिक ट्रिब्यून के पूर्व एडिटर नरेश कौशल, पंजाबी ट्रिब्यून के पूर्व एडिटर सरदार एसएस तेज, नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स (इंडिया) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक मलिक, आई.टी.वी. नेटवर्क के मुख्य संपाक अजय शुक्ला, प्रैस कौंसिल आफ इंडिया के मैंबर बलविंदर जम्मू, बाबूशाही डॉटकॉम के एडिटर बलजीत बल्ली, चंडीगढ़ प्रेस क्लब की पूर्व अध्यक्ष नानकी हंस, चंडीगढ़ प्रेस कल्ब के वर्तमान अध्यक्ष बीएस रावत, और हिंदूस्तान टाइम्स के पूर्व चीफ फोटोग्राफर रजनीश कत्याल के नाम प्रमुख हैं। 

विनीत जोशी द्वारा यह भी जानकारी दी गई कि उपरोक्त के अलावा इस ज्यूरी कमेटी में पीटीसी न्यूज़ के एडिटर प्रभजोत सिंह, न्यूज़ 18 पंजाब के सीनियर एडिटर रितेश लक्खी, साहित्य अकादमी अवार्ड विजेता डा. मनमोहन, बीबीसी पंजाबी के सीनियर ब्रॉडकास्टर खुशहाल लाली, इंडियन ब्राड कॉस्टिंग सॢवस के पूर्व डिप्टी डायरेक्टर जनरल प्रोफेसर (डॉ.) केके रत्तू, इंडियन एक्सप्रेस के पूर्व चीफ फोटो एडिटर स्वदेश तलवार  और ट्रिब्यून के पूर्व चीफ फोटोग्राफर करम सिंह को भी शामिल किया गया है।

पत्रकारिता जगत में अदभूत योगदान और कार्यों के लिए 14 श्रेणियों के तहत इन पुरस्कारों का वितरण किया जाएगा। जिन श्रेणियों में विजेता पत्रकारों को पुरस्कार स्वरुप ट्राफी के साथ नगद राशि 21 हजार, 31 हजार 51 हजार रुपए भेंट की जाएगी वे इस प्रकार हैं- सरकारी/प्रशासनिक/नागरिक/शासन व्यवस्था से संबंधित उत्कृष्ठ रिपोर्टिंग, शिक्षा जगत से संबंधित उत्कृष्ठ रिपोर्टिंग, स्वास्थ्य कल्याण क्षेत्र से संबंधित उत्कृष्ठ रिपोर्टिंग, सर्वश्रेष्ठ स्पोर्ट्स कवरेज, कृषि समस्याओं से संबंधित उत्कृष्ठ रिपोर्टिंग, पर्यावरण जागरुकता से संबंधित उत्कृष्ठ रिपोर्टिंग, नशे की समस्या से संबंधित उत्कृष्ठ रिपोर्टिंग, पत्रकारिता शिक्षा क्षेत्र में उत्कृष्ठ योगदान, बेस्ट फोटो जर्नलिस्ट, और बेस्ट वीडियो जर्नलिस्ट। 

जर्नलिस्ट ऑफ ईयर अवार्ड के लिए ट्राफी के साथ 31 हज़ार रुपए नगद राशि भेंट की जाएगी जबकि लाइफ टाइम एचीवमैंट (पत्रकारिता में आजीवन योगदान) के लिए ट्राफी के साथ 51 हजार रुपए राशि भेंट की जाएगी.

इस मौके पर विपिन पब्बी ने बताया कि पंजाब में पत्रकारिता के आदर्शों पर चलने वाले उत्साही पत्रकारों के कार्यों को पहचानने और उन्हें सम्मानित करने की ये एक कोशिश है। जोशी फाउंडेशन मीडिया अवार्ड्स राज्य में हो रही ऐसी पहली कोशिश है जिसके तहत कलम और विचारों के योद्धाओं को सम्मानित किया जाएगा. लोकतंत्र, समानता, पारदर्शिता, जवाबदेही, और धर्मनिरपेक्षता के आदर्शों का संरक्षण करने वाले पत्रकारों के सम्माननीय कार्यों को ये एक ट्रिब्यूट की तरह है।

नरेश कौशल और एसएस तेज ने संयुक्त रुप से स्वतंत्र और निडर मीडिया प्रोफेशनल्स को पहचानने और उन्ह सम्मानित करने की महत्ता पर बल दिया. उन्होंने ये भी कहा कि मीडिया के नए नवेले आयामों के दौर से गुजरते हुए हमारा समाज और शासन व्यवस्था नए खोज पर निकले हुए हैं. ऐसे में ये पहल सच की तलाश और उसे स्थापित करने में जुटे लगनशील आदर्श पत्रकारों को सम्मानित करेगी। प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में सच सामने लाने वाले होनहार पत्रकारों के सम्मान की ये कोशिश है।

वर्तमान में मीडिया की विश्वसनीयता की ज़रूरत पर बल देते हुए बलजीत बल्ली, अजय शुक्ला, नानकी हंस, अशोक मलिक, बलविंदर जम्मू, बीएस रावत जाने ने कहा कि मीडिया जगत में सोशल मीडिया के आने से पूरी दुनिया तेज़ी से बदल रहे समाज की गवाह बन रही है. ऐसे में विश्वसनीयता की ज़रूरत और उत्तरदायित्व जानकारी की इस दुनिया में और बढ़ जाती है।

दूसरी तरफ स्वदेश तलवार और डा. एचके बाली ने कहा कि उत्साह, गति, कौतुहल और जज़्बे के सम्माान और इन सबकों प्रदर्शित करते पत्रकारों के कार्य, बेहद ही गर्व का विषय हैं. ये वाकई में महान जिम्मेदारी है।

प्रेस कांफ्रेंस समापन करते हुए जोशी फाऊंडेशन के अध्यक्ष सौरभ जोशी ने कहा कि जोशी फाउंडेशन आदर्शों के अनुकुल चलने का प्रयास करता है। इसके लिए ज्यूरी मैंबर्स द्वारा योग्य पत्रकारों के कार्यों को सम्मानित करके इसका आनंद उठाने की कोशिश की जा रही है।

अवार्ड्स के नामांकनों के लिए आवेदन की आखिरी तिथि 28 फरवरी 2019 है. अवार्ड समारोह का आयोजन मार्च महीने के पहले या दूसरे रविवार को किया जाएगा।

योग्यता, नामांकन आमंत्रण की प्रक्रिया, चयन प्रक्रिया और नियमों की जानकारी के लिए www.joshifoundation.in  पर जाएं। जोशी फाउंडेशन से फेसबुक, इंस्टाग्राम और ट्विटर द्वारा भी संपर्क कर सकते हैं। 

 

 

No comments:

Post a comment