Tuesday, 26 June 2018

तंबाकू कंट्रोल के लिए ट्राईसिटी के तीनों निगम मिलकर करेंगे काम: तंबाकू बेचने के लिए लाईसेंस प्रणाली शुरू करने की भी योजना

By 121 News

Chandigarh 26th June:- तंबाकू उत्पादों की बिक्री के लिए लाईसेंस सिस्टम की आवश्यकता और इसे लागू करने से संबंधित विषय पर एक कार्यशाला का आयोजन मोहाली नगर निगम के कार्यालय में किया गया । जिसमें की मोहाली, चण्डीगढ़ और पंचकूला  नगर निगम के कई उच्चा अधिकारीयों ने हिस्सा लिया । जनरेशन सेवियर एसोसिएशन मोहाली द्वारा करवाई गई इस कार्यशाला का मुख्य उद्देश्य तंबाकू उत्पादों की बिक्री संबंधी ऐसी नीति तैयार करना था जिससे की गैर कानूनी रूप से बिक रहे तंबाकू उत्पादों पर लगाम लगाई जा सके।  इसके साथ इस विषय पर भी बारीकी से चर्चा की गयी की तंबाकू कंट्रोल कार्यक्रम को लेकर मोहाली, पंचकूला तथा चंडीगढ़ में किस तरह समन्वय स्थापित किया जा सकता है। चूँकि तीनों शहरों की सीमाऐं एक दूसरें के साथ इस तरह से सटी है की यदि एक शहर किसी कानून के अंदर सख्ती दिखता है तो दूसरे शहर में उसका  उल्लंघन शुरू हो जाता है।

कार्येशाला में इस तरह के कानून लेन पर चर्चा की गयी की जिससे खाने-पीने के उत्पादों के साथ तंबाकू उत्पादों की बिक्री पर रोक लगयी जा सके और शराब की तरह तंबाकू की बिक्री के लिए दुकानदारों को लाईसेंस लेना अनिवार्य किया जा सके। ज्ञात हो कि इसे विषय को लेकर पिछले दिनों केंद्र सरकार द्वारा सभी राज्यों को एक पत्र भी लिखा जा चुका है । जिसमें कि  सभी राज्यों को अपने यहां  इस तरह की नीति बनाने की बात कही गई है ।

इस मौके पर जनरेशन सेवियर ऐसोसिएशन की अध्यक्ष उपींदर प्रीत कौर गिल ने कार्यशाला के उद्देश्य के बारे में जानकारी देते हुए बताया की इस कार्यशाला का मुख्य उदेश्य तंबाकू की बिक्री को नियंत्रित करने के लिए नई नीति बनाने और ट्राई सिटी में तंबाकू कंट्रोल से संबंधित सभी कानूनों को एक साथ सख्ती से लागू करवाना है ताकि तंबाकू विक्रेता अलग-अलग प्रशासनिक प्रणाली होने का फायदा ना उठा सकें । वंही मेयर कुलवंत सिहं ने कार्यशाला की अध्यक्षता करते हुए कहा कि तंबाकू जैसे बुराई के खात्में के लिए यह जरूरी है कि सभी विभाग व सरकारें एक साथ मिलकर काम करें । उन्होंने कहा कि तीनों शहरों के निगमों के उच्चा अधिकारीयों द्वारा एक ही छत के नीचे इक्टठा होकर नीति निर्माण के विषय पर चर्चा करना सहासी कदम है जिसके लिए उन्होंने जी.एस.ए की प्रशंसा भी की । वहीं उपींदर प्रीत कौर आहलुवालिया, मेयर पंचकूला ने कहा कि आज जब कि देश में ड्रग्स व आदि मादक पदार्थों के सेवन पर एक गंभीर चर्चा हो रही है । वहीं तंबाकू का खात्मा करना अधिक आवश्यक है क्योंकि तंबाकू सभी तरह के नशीलें पदार्थों के सेवन के लिए प्रवेश द्वार का काम करता है ।

इस मौके पर द युनियन दिल्ली से आए वरिष्ठ तकनीकि सलाहकर अशीष पांडे बताया कि हर साल भारत में लगभग 13 लाख लोगों की मृत्यु तंबाकू के सेवन से होने वाली बिमारीयों के कारण हो जाती है । दीपक मिश्रा, सीड्स दिल्ली के एग्जयूकेटिव डायरेक्ट्र बताया कि रांची भारत का पहला ऐसा  शहर है जहां पर नगर निगम रांची के द्वारा शहर में तंबाकू उत्पादों की बिक्री के दुकानदारों के लिए लाईसेंस प्रणाली शुरू की गई है । ताकि तंबाकू के गैर-कानूनी व्यपार पर रोक के साथ-साथ तंबाकू कंट्रोल के लिए बने कानूनों को सख्ती से लागू किया जा सके । तंबाकू कंट्रोल कार्यक्रम पंजाब की नोडल अधिकारी डॉ. अरीत कौर ने बताया की संशोधन के बाद कोटपा 2003 अधिनियम के तहत पंजाब में हुक्का बार्स पर  प्रतिबंध लगाने के लिए बिल विधान सभा में पास हो चूका है और राष्ट्रपति से मंजूरी के बाद ये पंजाब में हुक्का बार्स पर पूर्ण प्रतिबंध लग जायेगा।

डॉ. राकेश गुप्ता, उप निदेशक और मुख्य रसायन परीक्षक ने पंजाब में ईएनडीएस (इलेक्ट्रॉनिक निकोटिन डिलिवरी सिस्टम) या ई-सिगरेट पर प्रतिबंध पर चर्चा करते हुए बताया की पंजाब में ई-सिगरेट पूर्ण रूप से प्रतिबन्दित है और इसकी डिलीवरी ऑनलाइन साइट्स से भी पंजाब में नहीं की जा सकती परन्तु चंडीगढ़ और पंचकूला में इससे ऑनलाइन मंगवाया जा सकता है। इस लिए ई-सिगरेट पूर्ण रूप से प्रतिबन्दित करने के लिए ये जरुरी है की ये दोनों शहर भी इसे प्रतिबन्दित करें।  वहीं डां राकेश गुप्ता, मुख्य रसायन निरिक्षक पंजाब ने कहा की पंजाब देश का पहला ऐसा राज्य था जहां पर ई-सिगरेट की बिक्री पर प्रतिबंध लगाया गया था । लेकिन कई सारी ई-कार्मस साईट्स पर चंडीगंढ़ और पंचकुला पर इसे आसानी से मंगवाया जा सकता है लेकिन मोहाली में इसकी डिलवरी नही होती । इसलिए यह जरूरी है कि बाकी के राज्यों में भी इसपर प्रतिबंध लगाया जाए क्योंकि ई-सिगरेट तंबाकू से भी अधिक जानलेवा है । इस मौके पर संदीप हंस, आईएएस, कमिश्नर, मोहाली नगर निगम ने इस अवसर पर पहुँचने तथा अपने विचार देने पर सभी उच्च अधिकारिओं का धन्यवाद किया । इस अवसर पर मोहाली नगर निगम की ज्वाईंट कमीशनर अवनीत कौर, पंचकूला के जिला नोडल अधिकारी डा. संदीप जैन, चंडीगंढ़ नगर निगम के लॉ इनफोर्समेंट अधिकारी सुनिल दत्त आदि भी मौजूद थे ।